बच्चा पैदा करने के पीछे होश उड़ा देने वाली 7 अजीबो-गरीब परंपराएं


हर लड़की चाहती है कि उसे मां बनने का सौभाग्य प्राप्त हो लेकिन मां बनना आसान नहीं है। हर देश में महिलाओं के बच्चा पैदा करने के पीछे अजीबो-गरीब परंपराएं हैं जो किसी के भी होश उड़ा सकती हैं। जानिए कुछ ऐसी ही अजीबोगरीब परंपराओं के बारे में... 

यह भी पढ़े : मासिक धर्म में ब्लड का रंग बताता है बीमारियां

1. आयरलैंड की परंपरा के अनुसार,बच्चा पैदा होते ही उसे वाइन पिलाई जाती है। दरअसल, इसके लिए मां-बाप पार्टी का आयोजन करते हैं, जिसमें वाइन वाला केक बनाया जाता है। इस केक को बच्चे के माथे पर लगाया जाता है।

2. गौटेमाला काफी गर्म देश हैं, जिस कारण मां को फिक्र होती है कि कहीं उनके नवजात बच्चे को दाने और रैशेज ना निकल आएं। इस वजह से वो अपने नवजात को बर्फीले ठंडे पानी में डालकर एक बार में निकाल लेती हैं। इस दौरान बच्चे जबरदस्त तरीके से रोते हैं। 

3. मॉरिटेनिया जो कि साउथ अफ्रीकी रेगिस्तान में है वहां लोग थूक को बड़ा महत्तव देते हैं। उनका मानना है कि थूक में बातों को रखने और अहसास को बनाए रखने की गजब की ताकत होती है इसलिए वहां पैदा हुए बच्चे के मुंह में एक बार माता और पिता दोनों थू‌कते हैं। 

4. बच्चा पैदा करने से जुड़े चीनी परंपरांए आपको पक्का दंग करेंगी। जहां चीन के कुछ हिस्सों में पहली बार पिता बन रहे आदमियों को अपनी पत्नी को कोयले की भट्ठी पर सुरक्षित लेकर जन्म देते वक्त बैठना होता है। ऐसा मान्यता है कि क्योंकि बच्चा पैदा करना एक पीड़ादायक वक्त होता है इसलिए ऐसा करने से दर्द अगले जन्म में नहीं होगा।

5. थाईलैंड के कुछ हिस्सों में नवजात बच्चों को प्यार कराने का ढंग अजब-गजब होता है। कुछ लोग नवजात बच्चों के गुप्तांग को सहलाते हैं और चूमते भी हैं। 

6. क्या आपको पता है कि जमैका और दुनिया के कई हिस्सों में मां को बच्चा पैदा करने के बाद गर्भनाल को खाना होता है। इसे बच्चा पैदा करने के बाद होने वाले तनाव को खत्म करने की दवा माना जाता है हांलाकि वैज्ञानिकों ने इस परंपरा पर सवाल उठाए हैं। 

7. आपको जानकर काफी हैरत होती कि पाकिस्तान के कलश प्रांत में जन्म देती मां को अशुद्घ माना जाता है। इस वजह से उसे बच्चा पैदा करने के लिए अकेले ही छोड़ दिया जाता है। यही नहीं अगर किसी को भी ऐसी महिला के साथ रहने के लिए दिया जाता है तो वो औरतें होती हैं जो मासिक धर्म से गुजर रही होती हैं। उन्हें भी अशुद्घ ही माना जाता है।


Post a Comment

أحدث أقدم