वास्तु-शास्त्र के अनुसार रोटी पकाने के साथ भाग्य भी चमका सकता है तवा, लेकिन पालने पड़ेंगे कुछ ये नियम

 
वास्तु-शास्त्र एक ऐसी विद्या है, जिसका हमारे जीवन से गहरा संबंध होता है। सभी दिशाओं के साथ हमारी आसपास की चीजों का भी वास्तु से गहरा संबंध होता है।  वास्तु शास्त्र  के  मुताबिक, घर में रसोईघर यानी किचन की अहम भूमिका होती है। वास्तु के अनुसार, तवे का सही से इस्तेमाल करने और इस दौरान वास्तु नियमों का पालन करने से भाग्योदय हो सकता है। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होने के साथ बंद किस्मत के ताले खुल सकते हैं। आइए जानें तवे से जुड़े वास्तु उपाय के बारे में....

वास्तु-शास्त्र के अनुसार , घर की पहली रोटी बनाकर गाय, किसी अन्य जानवर या पक्षी को डालें। इससे घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा सकारात्मक में बदल जाती है। इसके साथ ही घर में सुख-समृद्धि व खुशहाली का वास होता है। अगर आप तवे को धोकर रोटी नहीं बनाते हैं तो अपनी इस आदत को सुधार लें। वास्तु के अनुसार, रोटी बनाने से पहले तवे को साफ करना चाहिए। इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। साथ ही बीमारियों की चपेट में आने का खतरा भी कम रहता है।

ज्योतिष-शास्त्र के मुताबिक, अक्सर कई महिलाएं रोटी बनाने के तुरंत बाद गर्म तवे पर पानी डाल देती है।  लेकिन, इस दौरान तवे से आने वाली आवाज को अशुभ माना जाता है। ये घर में संकटों को आने का न्योता देती है। ऐसे में अगर आप भी ऐसा करती है तो अपनी इस आदत को सुधार लें।

वास्तु-शास्त्र की मानें, तो रोटी बनाने के बाद तवे को गैस की बाईं ओर रखना शुभ होता है। इससे घर में अन्न व धन की बरकत बनी रहती है। इस बात का जरूर ध्यान रखें कि, तवे को किसी ऐसे स्थान पर रखें, जिसे कोई बाहरी व्यक्ति इसे न देखे। तवा कभी भी खुले स्थान पर नहीं रखना चाहिए। इसके अलावा तवे.को कभी भी उल्टा न रखें।

रोटी बनाने से पहले तवे पर थोड़ा सा नमक डालें। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि नमक में थोड़ा सा भी अन्य पदार्थ जैसे हल्दी, मिर्ची या कोई भी मसाला ना मिला हो। ऐसा करने से राहु का अशुभ प्रभाव नहीं पड़ता। 

Post a Comment

Previous Post Next Post