जयपुर में टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के लिये दर्शकों की संख्या पर कोई पांबदी नहीं

 भारत और न्यूजीलैंड के बीच 17 नवंबर को जयपुर में होने वाले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में काफी संख्या में दर्शक उपस्थित हो सकते हैं क्योंकि मेजबान संघ ने कोविड-19 का पहला टीका ले चुके दर्शकों के प्रवेश पर कोई पाबंदी नहीं लगायी है। जिन लोगों को कोविड-19 का पहला टीका नहीं लगा है तो उन्हें कोविड-19 नेगेटिव होने की वैध जांच रिपोर्ट साथ लानी होगी जो मैच शुरू होने से 48 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए। सवाई मानसिंह स्टेडियम में दर्शकों के बैठने की क्षमता 25,000 है। यह स्टेडियम आठ वर्षों बाद अंतरराष्ट्रीय मैच की मेजबानी कर रहा है।


राजस्थान क्रिकेट संघ (आरसीए) सचिव महेंद्र शर्मा ने गुरूवार को पीटीआई से कहा, ‘‘राज्य के मौजूदा दिशानिर्देशों के अनुसार हम पूरी क्षमता में दर्शकों को नहीं बुला सकते। आपको कोविड-19 का पहला टीका लेना जरूरी होगा या फिर नेगेटिव जांच रिपोर्ट लानी होगी जिसकी प्रवेश द्वार पर ही चेकिंग की जायेगी। ”

शर्मा ने कहा कि मास्क के बिना स्टेडियम में प्रवेश नहीं दिया जायेगा। कोविड काल में पांबदियों के बिना भारत में यह पहला अंतरराष्ट्रीय मैच होगा। दर्शकों को इंग्लैंड के खिलाफ भारत की घरेलू श्रृंखला के दौरान भी अनुमति दी गयी थी लेकिन इनकी संख्या स्टेडियम की 50 प्रतिशत ही रखी गयी थी।

बाद में सीमित ओवरों की श्रृंखला में कोविड-19 मामलों के बढ़ने के कारण आयोजकों को मैच दर्शकों के बिना ही कराने पड़े थे। शर्मा ने कहा कि शुरूआती टी20 मैच के लिये टिकटों की बिक्री गुरूवार रात से शुरू हो जायेगी और ये पेटीएम डॉट कॉम पर उपलब्ध होंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘टिकटों की कीमत 1000 रूपये से शुरू होगी और सबसे महंगा टिकट 15,000 रूपये का होगा। ” शर्मा ने कहा कि न्यूजीलैंड 14 नवंबर को होने वाले टी20 विश्व कप के फाइनल में पहुंच गया है लेकिन उनकी टेस्ट टीम के नौ खिलाड़ी बुधवार को जयपुर पहुंच गये हैं। भारतीय खिलाड़ी टूर्नामेंट से जल्दी बाहर होने के कारण पहले ही स्वदेश लौट चुके हैं और जल्द ही ‘बायो-बबल’ में प्रवेश करेंगे। तीन मैचों की टी20 श्रृंखला के बाद दो टेस्ट खेले जायेंगे जो विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का हिस्सा होंगे।

Post a Comment

Previous Post Next Post