कोरोना संक्रमण रोकने पर राहुल गांधी ने केंद्र सरकार को दिया सुझाव

 
देश में कोरोना संक्रमण की मौजूदा स्थिति को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार की निष्क्रियता कई निर्दोष लोगों की जानें ले रही हैं। साथ ही उन्होंने देश में संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन लगाने की भी सलाह दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भारत सरकार अब भी स्थिति को नहीं समझ पा रही है। देश में मंगलवार को कोविड-19 संक्रमण के 3,57,229 नए मामले आए और पिछले 24 घंटों में 3,449 लोगों की मौत दर्ज की गई है।

राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा, “भारत सरकार स्थिति को नहीं समझ रही है। कोरोना संक्रमण को फैलने का अब एकमात्र उपाय फुल लॉकडाउन है। इसके (लॉकडाउन) साथ गरीब तबकों को ‘न्याय’ के तहत संरक्षण मिले। भारत सरकार की निष्क्रियता कई निर्दोष लोगों को मार रही है।” ‘न्याय’ कांग्रेस पार्टी की न्यूनतम आय योजना है, जिसे पार्टी ने 2019 लोकसभा चुनाव के समय गरीब लोगों को दिए जाने का वादा किया था।

राहुल गांधी ने पिछले साल संक्रमण के पहले दौर में लगाए गए कड़े लॉकडाउन का विरोध किया था। उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार के इस निर्णय के कारण देश के गरीबों पर बुरा प्रभाव पड़ा था। वे कई मौकों पर यह भी कह चुके हैं कि लॉकडाउन से वायरस को नहीं हराया जा सकता है। राहुल गांधी वैक्सीनेशन की स्थिति और संक्रमण को नहीं संभालने का आरोप लगाते हुए केंद्र सरकार पर लगातार निशाना साध रहे हैं। सोमवार को भी एक ट्वीट में उन्होंने वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार की नीतिगत पंगुता से वायरस के खिलाफ जंग नहीं जीती जा सकती।

loading...

No comments