ज्‍योतिषशास्‍त्र के अनुसार रक्षाबंधन पर बहिन को भूल से भी न दें ऐसे उपहार


भाई-बहन के रिश्‍ते को मजबूत बनाने वाला त्यौहार रक्षाबंधन हर साल सावन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है जो कि इस बार 3 अगस्त को मनाया जाना हैं। इस दिन बहिन अपने भाई को राखी बांधती हैं और भाई अपनी बहिन को उपहार देता हैं जो कि इस रिश्ते में और प्यार भरता हैं। लेकिन उपहार देते समय जरूरी हैं कि कुछ बातों का ध्यान रखा जाए क्योंकि आपके उपहार रिश्ते को नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। तो आइये जानते हैं इसके बारे में।

इन चीजों को गलती से भी न दें
ज्‍योतिषशास्‍त्र और वास्‍तु में किसी को भी उपहार में नुकीली और धारदार चीजें देने को अशुभ माना गया है। इसलिए रक्षाबंधन पर बहनों को भूलकर भी चाकुओं का सेट, मिक्‍सी, आईना या फिर फोटो प्रेम आदि उपहार में न दें। इसके साथ ही रुमाल और फोटो फ्रेम भी उपहार में नहीं देना चाहिए। इससे आपको धन संबंधी नुकसान होने के साथ ही रिश्‍तों में भी कड़वाहट भी आ सकती है।


इन वस्‍तुओं को देना है शुभ
राखी बंधवाने के बाद भाई बहन की सुरक्षा का वचन लेते हैं, इसलिए बेहतर होगा कि उपहार भी इसी बात को दिमाग में रखकर दिया जाए। रक्षाबंधन पर बहनों को देने के लिए सबसे शुभ तोहफे वस्‍त्र, गहने, किताबें, म्‍यूजिक सिस्‍टम या फिर सोने चांदी के सिक्‍के होते हैं। इन सभी चीजों से रिश्‍तों में प्रगाढ़ता बढ़ती है और भाई-बहन को धन, वैभव और ऐश्‍वर्य की प्राप्ति होती है।

जूते-चप्‍पल भी न दें उपहार में
आजकल देखने में आता है रक्षाबंधन के अवसर में भाई लोग बहन की पसंदीदा चप्‍पलें या फिर सेंडल खरीदकर उन्‍हें उपहार में लाकर देते हैं, यह सही नहीं है। ज्‍योतिष में बुध को बहनों का कारक माना गया है। आप बुध से संबंधित चीजें बहनों को उपहार में दे सकते हैं। इनमें शिक्षा की सामग्री, मोबाइल, लैपटॉप या फिर कोई बॉन्‍ड उपहार स्‍वरूप अपनी बहन को दें तो बेहतर होगा।


उपहार में दें वस्‍त्र
रक्षाबंधन पर बहनों को देने के लिए सुंदर वस्‍त्र भी एक अच्‍छा विकल्‍प हो सकता है। इस दिन काले और नीले रंग के कपड़े छोड़कर आप अपनी बहन को किसी भी प्रकार के वस्‍त्र उपहार में दे सकते हैं। ऐसा करने से मां लक्ष्‍मी प्रसन्‍न होती हैं। स्त्रियों में मां लक्ष्‍मी का वास होता है और उन्‍हें खुशी देने से मां लक्ष्‍मी आपसे भी प्रसन्‍न होती हैं।
loading...

No comments