प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समर्थवान लोगों से की बड़ी अपील


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना का जवाब करुणा से देने की अपील की है। उन्होंने कहा कि समर्थवान लोग अगले 21 दिनों तक प्रतिदिन नौ गरीबों की मदद करने का प्रण लें तो अच्छा नवरात्र हो जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह बातें लॉकडाउन के कारण गरीबों के सामने आईं मुश्किलों के सवाल पर कहीं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम गरीबों और जरूरतमंदों के प्रति करुणा दिखाकर भी कोरोना को पराजित करने का एक कदम उठा सकते हैं।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसदीय क्षेत्र वाराणसी की जनता को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से शाम पांच बजे संबोधित करते हुए कहा, "अभी नवरात्र शुरू हुआ है। अगर हम अगले 21 दिन तक, 9 गरीब परिवारों की मदद करने का प्रण लें, तो इससे बड़ी आराधना मां की क्या होगी। इसके अलावा आपके आसपास जो पशु हैं, उनकी भी चिंता करनी है। मेरी लोगों से प्रार्थना है कि अपने आस-पास के पशुओं का भी ध्यान रखें।


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "जो तकलीफें आज हम उठा रहे हैं, जो मुश्किल आज हो रही है, उसकी उम्र फिलहाल 21 दिन ही है। लेकिन, कोरोना का संकट समाप्त नहीं हुआ, इसका फैलना नहीं रुका तो कितना ज्यादा नुकसान हो सकता है, इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है।"


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "ऐसे में जब देश के सामने इतना बड़ा संकट हो, पूरे विश्व के सामने इतनी बड़ी चुनौती हो, तब मुश्किलें नहीं आएंगी, सब कुछ अच्छा होगा, ये कहना अपने साथ धोखा करने जैसा होगा। अगर मैं कहूं कि सब कुछ ठीक है, सब कुछ सही है, तो मैं मानता हूं कि ये खुद को भी धोखा देने वाली बात होगी।"
loading...

No comments