'थैंक यू ईमेल' धरती के लिए बहुत नुकसान दायक है, जानिए कैसे ?


अगर आप भी हर दफ्तर में हर ईमेल के बाद 'थैंक यू ईमेल' भेजते हैं तो अब आपको ये बंद कर देना चाहिए। क्योंकि आपका ये 'थैंक यू ईमेल' धरती के लिए बहुत नुकसान दायक है। आपका हर छोटा ईमेल धरती को विनाश की तरफ एक कदम और नजदीक ले जा रहा है। आपके इनबाक्स में हजारों ऐसे ईमेल दिख जाएंगे जिन्हें आप खोल कर भी नहीं देखते या सिर्फ नोटिफिकेशन में ही देख लेते हैं कि वो आपके काम का है या नहीं। शिष्टाचार के तौर पर कई बार ईमेल पर सिर्फ 'थैंक यू' या 'वेलकम' का ईमेल करना आम बात है।


इस तरह के ईमेल करते हुए आपने सोचा भी नही होगा की आपका ये ईमेल पृथ्वी को विनाश की तरफ ले जा रहा है। इस एक ईमेल से शायद आपकी जीवन में कोई असर न पड़े लेकिन पृथ्वी पर इसका गहरा असर पढ़ता है। आपके हर ईमेल से कार्बन उत्सर्जन होता है जो पृथ्वी पर ग्लोबल वार्मिंग को बढ़ाता है।


ब्रिटेन की एक एनर्जी कंपनी के रिसर्च का दावा है कि ब्रिटेन में हर दिन करीब 6 करोड़ 40 लाख ऐसे ईमेल किए जाते हैं जिनकी जरुरत नही होती। इनमें सबसे आम होते हैं थैंक यू ईमेल। इन ईमेल की वजह से हर साल 16,433 टन कार्बन रिलीज होता है। आप इसे ऐसे भी समझ सकते हैं कि साल भर में मुंबई से दिल्ली की 81,152 फ्लाइट से जितना कार्बन रिलीज होता है, 3,334 डीजल गाडियों से जितना कार्बन वातावरण में जाता है। उतना सिर्फ ब्रिटेन में साल भर के अनावश्यक ईमेल से होता है।
loading...

No comments