प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड काला चश्मा क्यों पहनते हैं, जानें क्या हैं ये राज!


अक्‍सर आपने देखा होगा कि प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड काले रंग का चश्‍मा पहनते हैं जब भी हमारे प्रधानमंत्री कहीं भाषण देते है या फिर रैली में जाते है तो उनके पीछे जो सिक्योरिटी गार्ड या बॉडीगार्ड होते है वे काला चश्मा लगाते है पर क्‍या आपने कभी सोचा है कि जानें प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड काला चश्मा क्यों पहनते हैं अगर नहीं तो आइये जानते हैं  जानें प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड काला चश्मा क्यों पहनते हैं.....


प्रधानमंत्री की सुुुरक्षा की जिम्मेदारी SPG की होती है यानी स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के कमांडो उनकी सुरक्षा करते हैं  एसपीजी का गठन 1984 मेंं तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी कि हत्या के बाद किया गया था SPG कमांडो प्रधानमंत्री के साथ चल रहे होते है या फिर खड़े होते है तो उनकी निगाह हर तरफ दौड़ रही होती है  इस बात का किसी व्यक्ति को पता न चले की वह किसको और कहाँ देख रहे है।


इसलिए बॉडीगार्ड काले चश्मे पहनते हैं सा‍थ अगर अकस्मात कोई विस्फोट हो जाए बम फट जाए या गोलाबारी होने लगे तो स्वाभाविक है कि थोड़ी देर के लिए आखें बंद हो ही जाती है पर इन बॉडीगार्डस को हर हालत में अपनी आखों को खोलकर रखना होता है ताकि कोई अप्रिय घटना न घटे  ऐसे में ये काले चश्मे काफी मददगार साबित होते है।


साथ जब हम कभी कम राशनी में से ज्‍यादा रोशनी में जाते हैं तो कुछ सेकंड के लिए हमारी आखें बन्‍द हो जाती है लेकिन बॉडीगार्ड को ऐसी स्थिति में भी अपनी आखें खुली रखनी होती है और काला चश्‍मा इनकी मदद करता है तो अब आप समक्ष गये होगें कि  प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड काला चश्मा क्यों पहनते हैं।
loading...

No comments