जिसे समझ में आए यह बातें, उसे ही चुनें अपना लाइफ-पार्टनर


अक्सर शादी के निर्णय में हम और ख़ासतौर से लड़कियां अपनी सारी सोच और तमाम ख़्वाहिशों को ताक पर रख देती हैं, जबकि यही वो व़क्त होता है, जब हमें सबसे ज़्यादा सोच-समझकर फैसला लेने की ज़रूरत होती है, क्योंकि एक ज़िम्मेदार व समझदार पति आपकी ज़िंदगी को सही दिशा दे सकता है, जबकि एक ग़लत निर्णय आपको उम्रभर का पछतावा भी दे सकता है। ऐसे में सवाल यह है कि क्या और किस तरह से सिलेक्ट करें आप अपना लाइफ पार्टनर, ताकि आपको परिवार व शादी के बाद अपने अच्छे-ख़ासे सफल करियर को यूं ही अलविदा न कहना पड़े।

सबसे पहले आपको ख़ुद यह सोचना होगा कि आप क्या करना चाहती हैं? अपनी प्राथमिकताएं तय करें।कंफ्यूजन में न रहें।आख़िर यह आपकी ज़िंदगी है, तो आपको ही यह निर्णय लेना होगा कि आपको क्या करना है।


उनसे पूछे कि वे आपके करियर को कितना महत्व देते हैं?शादी के बाद आपके करियर को बढ़ावा देने के लिए उनकी तरफ़ से क्या मदद होगी? क्या घरेलू ज़िम्मेदारियों में आपका हाथ बंटाएंगे? घर के कामों में आपकी कितनी मदद करेंगे?महिलाओं के प्रति और ख़ासतौर से कामकाजी महिलाओं के प्रति उनकी क्या राय है?

बातचीत के बाद इसी के अनुसार आप अपनी प्राथमिकताएं तय करें। प्लानिंग करें कि आपको कितना बदलना है और किस तरह से बदलना है, ताकि आपको करियर से भी समझौता न करना पड़े और परिवार को भी व़क्त दे सकें।


समाज व लड़कियों के माइंडसेट को बदलने की जरूरत है, जहां उन्हें यह साफ़तौर पर निर्णय लेना होगा कि उन्हें परिवार और करियर दोनों ही चाहिए।इस सकारात्मक सोच के साथ यदि वो आगे बढ़ेंगी, तो यक़ीनन दोनों के बीच सामंजस्य बेहतर तरी़के से बैठा पाएंगी।

बेहतर होगा अपने होनेवाले लाइफ पार्टनर को जांचें, परखें और समझदारी से काम लें, क्योंकि एक समझदार लाइफ पार्टनर के साथ ही बेहतर ज़िंदगी और बेहतर करियर की संभावनाएं मौजूद होंगी।
loading...

No comments