loading...

नाक ही नहीं हमारे शरीर का ये अंग भी आता है गंध सूंघने के काम


किसी भी प्रकार की गंध को सूंधना हो हमारी नाक इस कार्य को पूरा करती है। लेकिन हाल ही में रिसर्च के बाद वैज्ञानिकों ने खुलासा किया है कि गंध को सूंघने के लिए केवल नाक का ही उपयोग नहीं होती है एक चीज और भी होती है जो गंध को सूंघने में मदद करती है।


हाल ही में किये एक रिसर्च के बाद वैज्ञानिकों ने इस अंग का पता लगा लिया है जो सूंघने में मदद करता है। वैज्ञानिकों के अनुसार हमारे शरीर में जीभ भी एक ऐसा ही अंग है, जो गंध को सूंघने का काम भी करती है। इसका दावा फिलाडेल्फिया में मोनेल केमिकल सेंस सेंटर के सेल बायोलाॅजिस्ट डाॅक्टर मेहमेट ओज्डेनर ने अपने एक शोध में किया है।


जिसमें बताया गया है कि जीभ किसी भी गंध को सूंघ सकती है। ओज्डेनर ने कहा कि मनुष्य के सूंघने पर अध्ययन करने का ख्याल उनके दिमाग में तब आया जब एक 12 साल के बच्चे ने सांप के लिए की वो अपने आस-पास की गंध को सूंघने के लिए अपनी जीभ को बाहर निकालता है।


ओज्डेनर ने यही भी कहा कि सांप गंध को सीधे नहीं सूंघ सकता है, लेकिन वो जीभ का उपयोग गंध वाले अणुओं को अपने मुंह तक लाने के लिए करता है। लेकिन अगर मनुष्य की बात की जाये तो मनुष्य सीधे ही गंध को सूंघ सकता है। वैज्ञानिकों ने इस शोध को पूरी तरह से जानने के लिए पुराने शोधों की भी सहायता ली।


पुराने शोध में बताया गया था कि खाने-पीने वाली चीजों की तेज गंध इंसान की नाक को बंद कर देती है। यही कारण है कि इंसान खाता है तो उसे स्वाद की कमी महसूस होती है।

No comments