आज के युवाओं की इस एक गलती से स्पर्म हो रहे है कमजोर!


आज कल ज्यादातर देखा जा रहा है कि कई लोग सेक्स समस्याओं को लेकर परेशान रहतें हैं। और हो भी क्युं न हो आज कल के लाइफ स्टाइल को देखकर लगता है कि अब लोगों को अपनी हेल्थ की कोई फ़िक्र नहीं रही। आपको बता दें कि सही समय पर न सोना और गलत समय पर खाना पीना नामर्द का कारण बनता है। ज्यादा परेशानी तब आती है जब आपके अंदर मौजूद स्पर्म में कोई परेशानी आ जाती है, जिससे पुरुष को बांझपन का शिकार होना पड़ जाता है। अगर आपको भी पिता बनने की ख्वाहिश है, तो आपको बिस्तर में लेटकर जल्दी सोना होगा।

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि एक शोध में खुलसा हुआ है कि, जो व्यक्ति रात 8 बजे से 10 बजे के बीच सो जाते हैं। उन सब में शुक्राणुओं की गतिशीलता सबसे अच्छी हो जाती है। इसका मतलम ये होता है कि शुक्राणु में अच्छा तैराक मौजूद है। उनके अण्डों में निषेचिक कि सम्भावना अच्छी रही। और बेहद खास बात उनके लिए जो लोग आधी रात के बाद सोते है यानि 10 बाजे के बाद तो उन व्यक्तियों में शुक्राणुओं की तादाद कम हो जाती है।

साथ ही उनके शुक्राणु जल्द ही मरने लगते है। आपको याद रखने की ज़रूरत है कि 6 घंटे या उस से कम सोने वालों की जिंदगी बदतर हो सकती है। इससे शुक्राणु ख़त्म हो जाते है। शुक्राणु एंटीबॉडी का स्तर बढ़ाता है। इसलिए हमारी बॉडी में जितनी शुक्राणु की संख्या ज्यादा होगी उतना ही हम स्वस्थ रहेंगे।
loading...

No comments