‘उस टाइम’ सम्बन्ध बनाने के खतरे


मासिक धर्म के दौरान संबंध बनाना पूरी तरह सुरक्षित माना गया है, अगर आपको और आपके साथी को सही लगता है। लेकिन विशेष मामलों में उसके कई जोखिम भी हो सकते हैं। देखिए क्या जोखिम हो सकते हैं...


यह भी पढ़े: लड़कियों में कब और कैसे शुरू होता है पीरियड
यदि मासिक धर्म के समय संबंध बनाने वाले जोड़े में से कोई भी एचआईवी संक्रमित है तो दूसरे में संक्रमण पहुंचने की आशंका कई गुणा बढ़ जाती है।
 जब माहवारी के दौरान संबंध बनाए जाते हैं और साफ–सफाई का विशेष ध्यान नहीं दिया जाता तो गुप्तांगों पर चर्मरोग की आशंका बढ़ जाती है। इनमें दाद सबसे प्रमुख है।
पुरूषों ही नहीं, महिलाओं को भी माहवारी के दौरान सम्बन्ध बनाने का थोड़ा बहुुत नुुकसान हो सकता है। उदाहरण के तौर पर महिला के पेड़ु में सूजन की आशंका बढ़ जाती है।
इसके अलावा माहवारी के दौरान यौन सम्बन्ध से साथी को हेपेटाइटिस बी जैसी अन्य रक्त जनित बीमारियां संक्रमित कर सकती हैं।
 माहवारी के दौरान यौनि का पीएच (ph) कम अम्लीय होता है इसीलिए इस दौरान किसी महिला के यीस्ट या बैक्टीरियल संक्रमण की संभावना ज्यादा रहती है।
यह भी पढ़े :  जिम जाने वाले नहीं बल्कि ऐसे लड़कों पर फिदा होती हैं लड़कियां

loading...

No comments